me="viewport" content="width=device-width, initial-scale=1.0" />
Flash News
चीन ने चांद पर उपजाया कपास, अब आलू पैदा करने की भी है उम्मीद   ****    केन्या में आतंकी हमला, 5 की मौत, कई घायल   ****    सॉफ्ट स्किन चाहिए, नहाते वक्त साबुन की जगह उबटन का इस्तेमाल करें   ****    आपके बड़े काम आएंगे सेक्स लाइफ से जुड़े ये resolution   ****    राशिफल 16 जनवरी 2019   ****    बुरी आदतें बढ़ा रही हैं आपकी परेशानी   ****    किचन के छोटे-छोटे टिप्स आपका काम कर देंगे आसान   ****    ट्रेंड में रहेंगे ओवरसाइज्ड ईयररिंग्स व चौकर नेकलेस   ****    राशिफल 9 जनवरी 2019   ****    मोदी सरकार के लिए अच्छी खबर, 7.3 प्रतिशत रहेगी देश की विकास दर   ****    आगरा एक्सप्रेस वे पर दर्दनाक हादसा, होने वाले पति-पत्नी समेत 3 की मौत   ****    राशिफल 8 जनवरी 2019   ****   

इसरो की उपलब्धि से हैरान था खुफिया प्रमुख के लिए ट्रंप का पसंदीदा अफसर

March 1, 2017

isro_1488379242_749x421अमेरिका की खुफिया एजेंसी सीआईए सहित देश की सभी खुफिया एजेंसियों के प्रभारी पद की दौड़ में शीर्ष प्रत्याशी ने कहा कि वह यह पढ़कर स्तब्ध रह गये थे कि भारत ने गत महीने एक बार में 100 से ज्यादा उपग्रहों का सफल प्रक्षेपण किया.

पूर्व सांसद डान कोट्स ने राष्ट्रीय खुफिया एजेंसी के निदेशक के पद पर पुष्टि के लिए अपनी पेशी के दौरान सांसदों से कहा, मैं यह पढ़कर स्तब्ध हो गया था कि भारत ने एक रॉकेट पर 100 से ज्यादा उपग्रहों को अंतरिक्ष में स्थापित किया. उन्होंने कहा कि अमेरिका इससे पिछड़ते हुए दिखाई देने का खतरा मोल नहीं ले सकता.

कोट्स ने कहा, वे अलग-अलग कार्यों के साथ आकार में छोटे हो सकते हैं, लेकिन एक रॉकेट इन्हें भेज सकता है, मुझे लगता है कि उसमें 104 प्लेटफार्म थे. कोट्स के नाम की अगर संसद से पुष्टि हो जाती है तो वह सीआईए समेत अमेरिका की सभी बड़ी खुफिया एजेंसियों के प्रभारी होंगे. गौरतलब है कि भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने 15 फरवरी को आंध्र प्रदेश के श्रीहरिकोटा अंतरिक्ष केन्द्र से एक रॉकेट पर रिकॉर्ड 104 उपग्रहों का सफल प्रक्षेपण किया था.

Print This Post Print This Post
To toggle between English & Malayalam Press CTRL+g

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Read More

Scroll to top