me="viewport" content="width=device-width, initial-scale=1.0" />
Flash News
स्किन को जवां रखना है, 25 की उम्र से लगाना शुरू करें ऐंटी-एजिंग क्रीम   ****    राशिफल 03 अगस्‍त   ****    मॉनसून में इस वजह से होता है Acne, यूं पाएं छुटकारा   ****    बालों को मजूबत बनाएगा Vitamin E Oil, जानें अन्य फायदे   ****    ‘जजमेंटल है क्या’ की सक्सेस के बाद Kangana Ranaut ने पोस्ट किया इमोशनल वीडियो   ****    हिमाचल की खूबसूरत वादियों में हॉलिडे पर कंगना रनौत, फैंस को कहा शुक्रिया   ****    दाऊद इब्राहिम संग जुड़ा था मंदाकिनी का नाम, फिर बौद्ध मॉन्क से की शादी   ****    ‘मैं सनी लियोनी नहीं हूं, प्लीज फोन मत करो’   ****    बारिश में खूबसूरत दिखना है, ये 4 ब्यूटी मंत्र अपनाएं   ****    स्वाद ही नहीं स्किन को भी चमकाता है अनानास   ****    गाय के घी के अनगिनत फायदे, रोजाना खाएं गाय का घी   ****    राशिफल 30 जुलाई   ****   

इस देश में रेप साबित करने के लिए भी चाहिए 4 गवाह, बदतर हालत में महिलाएं!

March 16, 2017

saudi_1489634664_749x421

सऊदी अरब में महिलाएं

दुनिया में कई देश ऐसे हैं जहां महिलाएं अब भी बदतर हालात में रह रही हैं. इन्‍हीं में से एक देश है सऊदी अरब. यहां महिलाओं को कई बेसिक अधिकार तक हासिल नहीं हैं. यह मुद्दा सोशल मीडिया पर तब उछला, जब वहां महिलाओं के हक के लिए गर्ल्स काउंसिल का गठन किया गया. पर काउंसिल की पहली पहली मीटिंग में ही महिलाओं को साथ नहीं बैठाया गया.

दुनिया में कई देश ऐसे हैं जहां महिलाएं अब भी बदतर हालात में रह रही हैं. इन्‍हीं में से एक देश है सऊदी अरब. यहां महिलाओं को कई बेसिक अधिकार तक हासिल नहीं हैं. यह मुद्दा सोशल मीडिया पर तब उछला, जब वहां महिलाओं के हक के लिए गर्ल्स काउंसिल का गठन किया गया. पर काउंसिल की पहली पहली मीटिंग में ही महिलाओं को साथ नहीं बैठाया गया.

3. कई बार यह कहा जाता है कि सऊदी अरब में रेप करने वालों के खिलाफ सख्‍त कानून है. पर सच्‍चाई ये है कि यहां रेप बड़ी संख्‍या में होते हैं. शायद आपको ये पता नहीं होगा कि यहां पत्नी के साथ जबरन संबंध बनाने को रेप नहीं माना जाता. दूसरी रेप की घटनाओं में किसी आरोपी को तब तक सजा नहीं दी जा सकती, जब तक रेप के चार चश्मदीद ना हों. इसलिए वहां रेप साबित करना एक मुश्किल काम है. कुछ मामले तो ऐसे भी देखे गए हैं कि अगर महिला का रेप हो और उस समय वह अकेली घर से निकली हो या उसके साथ कोई पुरुष गार्जियन ना हो, तो उसे भी सजा दी जाती है.

4. वहां महिलाएं अकेले सफर नहीं कर सकतीं. उनके साथ किसी पुरुष गार्जियन का होना आवश्‍यक है. यही नहीं, महिलाओं को सफर करने के लिए पुरुष की सहमति की आवश्‍यकता होती है. हालत ये हैं कि अगर किसी महिला का पति जीवित नहीं है तो उसे अपने बेटे से लिखित अनुमति लेनी होती है.

5. सउदी में हर महिला का कोई ना कोई पुरुष गार्जियन होना आवश्‍यक है. वो चाहे उसका पिता हो, या अंकल, भाई, बेटा.

6. इतना सब होने के बावजूद वहां महिलाएं पढ़ाई के मामले में पुरुषों से आगे हैं. लेकिन नौकरी में इनकी संख्या बहुत कम है.

7. सऊदी अरब में महिलाओं की ड्राइविंग को लेकर कोई नियम नहीं है लेकिन वहां इसे अच्‍छा नहीं माना जाता. कई विरोध प्रदर्शनों के बाद अब महिलाओं को केवल बच्चों को स्कूल छोड़ने और परिवार के किसी सदस्‍या को अस्पताल पहुंचाने के लिए ड्राइव करने का अधिकार मिल गया है.

आज तक के सौजन्य से

saudi-650_012315122902_031617091009


Like our page https://www.facebook.com/MalayalamDailyNews/ and get latest news update from USA, India and around the world. Stay updated with latest News in Malayalam, English and Hindi.

Print This Post Print This Post
To toggle between English & Malayalam Press CTRL+g

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Read More

Scroll to top