Flash News

11 साल पहले सांप काटने से मौत, अब सपेरा बनकर वापस आया है, जानें सच्ची कहानी

April 17, 2017

deepakबुलंदशहर। आज से करीब ग्यारह साल पहले की बात है। दीपक नाम का लड़के को सांप ने काट लिया था। उस समय दीपक की उम्र करीब 9 साल की थी। सांप के काटने के बाद उसके माता-पिता ने काफी कोशिशें कीं। झाड़-फूंक कराया। लेकिन, उसे बचाने में नाकाम रहे। दीपक की मौत हो चुकी थी। घर वालों ने उसे अवंतिका देवी घाट पर गंगा में बहा दिया। अब एक चमत्कार हुआ है।

मौत होने के बाद गंगा में बहा दिया था
प्राप्त जानकारी के अनुसार मामला बुलंदशहर के खुर्जा कोतवाली क्षेत्र के मोहल्ला माता घाट स्थित पिन्नीनगर का है। पिन्नीनगर निवासी पदम सिंह के नौ वर्षीय पुत्र दीपक को 6 जुलाई 2006 को सांप ने काट लिया था। जिसके बाद परिजनों ने उसका इलाज कराया, लेकिन उसे बचाने की हर कोशिश नाकाम रही। परिजनों ने दीपक को मृत समझकर अवंतिका देवी घाट पर गंगा में बहा दिया।

11 साल बाद सपेरा बनकर आया
अब 11 साल बीत जाने के बाद अचानक वह हो गया जिसकी किसी ने उम्मीद नहीं की थी। 11 साल बाद दीपक वापस आ गया है। दीपक एक सपेरे के साथ खुर्जा क्षेत्र के मोहल्ला माता घाट स्थित पिन्नीनगर में सांप का खेल दिखाने पहुंच गया। इस दौरान उसके भाई राजू और ताऊ खेमा ने उसे पहचान लिया। जिसकी जानकारी दीपक के पिता पदम सिंह और मां राजेश को हुई। उनके चेहरे पर खुशी की लहर दौड़ पड़ी। वे दौड़कर वहां पहुंचे और अपने कलेजे के टुकड़े को गले लगा लिया।

Untitled

परिजनों के साथ दीपक।

दीपक की याददाश्त चली गई है
दीपक जिस सपेरे श्यामनाथ के साथ आया था उसने बताया कि उसे दीपक अवंतिका देवी घाट के किनारे ही मिला था। जिसे निकालने के दौरान उसमें सांस थी। जिस पर श्यामनाथ ने उसका इलाज किया और वह जीवित हो गया, लेकिन उसकी याददाश्त चली गई थी। जिसके बाद उसका सपेरों के साथ धीरे-धीरे साल दर साल गुजरता गया। अब भी दीपक को अपनी पुरानी जिदंगी के विषय में याद नहीं है।

सपेरे ने कोई गांठ बांधकर रखी है
सपेरे श्यामनाथ ने बताया कि उन्होंने कोई गांठ बांधकर रखी हुई है। उनका दावा है कि जिसे खोलने के बाद दीपक को अपनी पुरानी जिदंगी के विषय में सबकुछ याद आ जाएगा। दीपक के घर लौटने के बाद उसके परिजनों में खुशी की लहर है। सपेरे ने भी दीपक को उसके परिजनों के सुपुर्द कर दिया है। 11 साल बाद जिंदा लौटने के विषय में जानकारी होने के बाद दीपक को देखने वाले का तांता लगा हुआ है।
इनख़बर

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए मलयालम डेयीली न्यूज़ के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।  

Print This Post Print This Post
To toggle between English & Malayalam Press CTRL+g

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Read More

Scroll to top