Flash News

किसान आन्दोलनः एक और किसान की मौत, मंदसौर शांत है, कई और जिलों में फैली हिंसा

June 9, 2017

madasorभोपाल। मध्य प्रदेश में किसानों के आंदोलन का आज 10वां दिन है। आंदोलन का गढ़ रहे मंदसौर में हालांकि शांति रही लेकिन अब अन्य इलाकों में हिंसक प्रदर्शन शुरू हो चुका है। इस बीच किसानों ने आज से जेल भरो आंदोलन की धमकी दी है।

इस बीच किसानों के हिंसक प्रदर्शनों से प्रभावित मंदसौर शहर और पिपलिया मंडी में स्थिति में सुधार को देखते हुए आज 12 घंटों के लिए कर्फ्यू में ढील दी जाएगी। हालांकि पुलिस ने कहा कि लोगों की आवाजाही पर लगी रोक जारी रहेगी।

मंदसौर में एक और किसान की मौत
हिंसा प्रभावित मंदसौर जिले के बड़ावन गांव में एक 26 साल के किसान की मौत हो गई है। गांववालों का आरोप है कि पुलिसवालों ने उसकी पिटाई की थी। इंदौर के एमवाई अस्पताल में किसान को भर्ती किया गया था। अस्पताल पहुंचने से पहले उसकी मौत हो चुकी थी और उसके शरीर पर चोट के निशान थे। हालांकि, पुलिस ने कहा कि उसकी मौत कैसे हुई ये अभी साफ नहीं हुआ है और वो मामले की जांच कर रहे हैं।

अन्य जिलों में फैल रही है हिंसा की आग
वहीं शुक्रवार को भोपाल के फंदा इलाके में आगजनी और पुलिस पर पथराव कर रहे प्रदर्शनकारियों पर पुलिस ने लाठीचार्ज किया और 27 लोगों को गिरफ्तार किया।

रीवा में किसानों ने सड़क पर फेंका प्याज
किसानों का आंदोलन मध्यप्रदेश के पूर्वी भाग के रीवा जिले में भी फैल गया। वहां पर किसानों ने सड़क पर प्याज फेंक दिये क्योंकि इनको बेचने के लिए उन्हें खरीदार नहीं मिल रहे थे। पुलिस ने उपद्रव करने वाले प्रदर्शनकारियों पर लाठी चार्ज किया।

धार में किसानों का चक्काजाम
वहीं प्रदेश में पश्चिमी भाग धार किसानों ने इन्दौर-अहमदाबाद राष्ट्रीय राजमार्ग पर चक्काजाम कर सड़क यातायात अवरुद्ध करने का प्रयास किया। इस पर किसानों ने पुलिस पर पथराव किया। पुलिस ने उन्हें तितर-बितर करने के लिये लाठीचार्ज किया।

धार जिला कलेक्टर एस शुक्ला ने कहा कि 47 प्रदर्शनकारियों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। इनमें से 11 को गिरफ्तार भी किया गया है।
रॉयटर्स

0ADF8706-7990-4BFF-9FB7-39522343F3EC_L_styvpf 5D4F801B-6044-4CD1-90EE-2D6154DFB869_L_styvpf

Print This Post Print This Post
To toggle between English & Malayalam Press CTRL+g

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Read More

Scroll to top