Flash News
ബിഷപ്പ് ഫ്രാങ്കോ മുളയ്ക്കലിനെ ചോദ്യം ചെയ്യല്‍ അവസാനിപ്പിച്ച് തിരിച്ചു പോരാന്‍ ഉന്നതങ്ങളില്‍ നിന്ന് ഉത്തരവ്; ബിഷപ്പിനെ അറസ്റ്റു ചെയ്തില്ലെങ്കില്‍ കോടതിയെ സമീപിക്കുമെന്ന് കന്യാസ്ത്രീയുടെ കുടുംബം   ****    കേരളം നേരിടുന്നത് 1924-നുശേഷമുള്ള ഏറ്റവും വലിയ പ്രളയം; രണ്ടു മാസം കൊണ്ട് തകര്‍ന്നത് 8420 റോഡുകള്‍; 8316 കോടിയുടെ നാശനഷ്ടമുണ്ടായതായി പ്രാഥമിക കണക്ക്   ****    സംസ്ഥാനത്ത് മഴയുടെ സം‌ഹാരതാണ്ഡവം തുടരുന്നു; കണ്ണൂര്‍, മലപ്പുറം, കോഴിക്കോട്, പാലക്കാട്, വയനാട് ജില്ലകളില്‍ വന്‍ നാശനഷ്ടം; മൂന്നാറും ശബരിമലയും ഒറ്റപ്പെട്ടു   ****    കനത്ത മഴ തുടരുന്നു; മുല്ലപ്പെരിയാറിന്റെ വൃഷ്ടി പ്രദേശത്ത് ശക്തിയായ മഴമൂലം ജലനിരപ്പ് ഉയരുന്നു   ****    ലോസ് ആഞ്ചലസില്‍ കലയുടെ ഓണാഘോഷം ഓഗസ്റ്റ് 18-നു ശനിയാഴ്ച   ****   

सुंजवान आर्मी कैंप हमले में 6 जवान शहीद

February 13, 2018

DVuQLmYW4AAt6MN

सुंजवान में आतंकियों को खोजने के लिए सेना द्वारा चलाए जा रहे सर्च ऑपरेशन के दौरान एक जवान का शव बरामद हुआ है। सेना ने जवान के शव को कब्जे में ले लिया है।

सुंजवान आतंकी हमले में शहीद होने वाले जवानों की संख्या 6 हो गई है। इस हमले में एक नागरिक की जान चली गई थी। इसके अलावा महिलाओं और बच्चों सहित 10 अन्य घायल हैं। इस हमले में सुरक्षाबलों ने चार आतंकियों को मरे गए थे।

गौरतलब है कि 10 फरवरी को भारी हथियारों से लैस जैश-ए-मोहम्मद के आतंकवादी ग्रेनेड फेंकते हुए और स्वचालित हथियारों से गोलीबारी करते हुए सुंजवान स्थित सैन्य शिविर में घुस आए थे।

पाकिस्तानी मूल के तीनों आतंकवादी जूनियर कमिशन्ड ऑफिसर के आवासीय क्वार्टर में प्रवेश करने में कामयाब रहे थे, जिन्हें बाद में सुरक्षा बलों ने मार गिराया।

रक्षा विभाग की ओर से जारी एक बयान के अनुसार, “सुंजवान में जारी अभियान के हिस्से के रूप में सेना ने दो आतंकियों को मार गिराया है। आतंकी सेना की वर्दी में थे और एके-56 राइफलों, ढेर सारे गोला-बारूद और हथगोलों से लैस थे।”

बयान में कहा गया है, “उनके सामानों से इस बात की पुष्टि हुई है कि वे जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी थे। घरों में मौजूद निहत्थे सैनिकों, महिलाओं और बच्चों की सुरक्षा के लिए अभियान को अत्यंत सावधानी और संयम के साथ चलाया जा रहा है।”

बयान में कहा गया है कि परिसर के 150 घरों में से अधिकांश को खाली करा लिया गया है और उसके निवासियों को सुरक्षित निकाल लिया गया है।

बयान में कहा गया है, “सभी आतंकियों के मारे जाने या गिरफ्तार किए जाने तक अभियान जारी रहेगा।” आतंकियों के पास से हथियार और गोला-बारूद बरामद होने के अलावा उनके पास से जेईएम के झंडे भी बरामद हुए हैं।

रक्षा सूत्रों के अनुसार, जम्मू शहर से लगे सुंजवान सैन्य शिविर के सैनिकों ने शनिवार तड़के 4.45 बजे संदिग्ध लोगों को आते हुए देखा और उन्होंने संदिग्ध आतंकियों को ललकारा। लेकिन आतंकियों ने हथगोला फेंका और गोलीबारी शुरू कर दी।

सेना के बयान के अनुसार, “घटना की सूचना मिलते ही त्वरित प्रतिक्रिया टीम ने पूरे क्षेत्र को घेर लिया और घरों में घुसे आतंकवादियों को अलग-थलग कर दिया। क्वार्टरों में महिलाओं और बच्चों की मौजूदगी की वजह से, कम से कम क्षति पहुंचाने के लिए अभियान काफी सतर्कता से आगे बढ़ाया गया।”

सूत्रों का कहना है कि जूनियर कमीशंड अधिकारियों की आवासीय इमारत में आतंकवादियों के सफाए के लिए हर कमरे की तलाशी ली जा रही है।

इससे पहले खुफिया रपटों में कहा गया था कि आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के आतंकवादी संसद हमले के दोषी अफजल गुरु की पांचवीं बरसी पर हमले की साजिश रच रहे थे।

अफजल गुरु को नौ फरवरी, 2013 को तिहाड़ जेल में फांसी दी गई थी। छिपे हुए आतंकवादियों के सफाए के लिए उधमपुर में सेना के उत्तरी कमान के मुख्यालय से सेना के पैराकमांडर्स को लाया गया।

गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने भी आर्मी कैंप पर हुए आतंकी हमले को लेकर DGP से बातचीत की है और हमले की जानकारी ली है।

जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने घटना पर दुख जताते हुए कहा है कि आशा है कि एनकाउंटर जल्द खत्म हो और हमारे सभी सैनिक और उनके परिवार सुरक्षित हों।

जम्मू-कश्मीर विधानसभा के स्पीकर कविंद्र गुप्ता ने कहा कि ये घटना भारत की सुरक्षा में चूक है। गृह मंत्रालय ने भी इस बात की जानकारी दी। गृह मंत्रालय पूरी स्थिति पर नजर रखे हुए हैं। आतंकियों के खात्मे के लिए सेना का ऑपरेशन जारी है।

सैन्य शिविर के आधा किलोमीटर के दायरे में आने वाले सभी शिक्षण संस्थानों को दिनभर के लिए बंद कर दिया गया है।

मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने इस हमले पर अपना गुस्सा जाहिर करते हुए कहा, “आज सुंजवान में हुए आतंकवादी हमले से व्यथित हूं। मेरी संवेदनाएं घायलों और उनके परिवारों के साथ हैं।”

नेशनल कांफ्रेंस के कार्यकारी अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने हमले की निदा करते हुए कहा, “जम्मू और सुंजवान में मुठभेड़ की खबर बेहद परेशान करने वाली है। हमारे सुरक्षाबलों और उनके परिवार वालों को किसी तरह का नुकसान पहुंचाए बिना इस मुठभेड़ के खत्म होने की उम्मीद है।”

JammuAndKashmir-1

Print This Post Print This Post
To toggle between English & Malayalam Press CTRL+g

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Read More

Scroll to top