Flash News
ബിഷപ്പ് ഫ്രാങ്കോ മുളയ്ക്കലിനെ ചോദ്യം ചെയ്യല്‍ അവസാനിപ്പിച്ച് തിരിച്ചു പോരാന്‍ ഉന്നതങ്ങളില്‍ നിന്ന് ഉത്തരവ്; ബിഷപ്പിനെ അറസ്റ്റു ചെയ്തില്ലെങ്കില്‍ കോടതിയെ സമീപിക്കുമെന്ന് കന്യാസ്ത്രീയുടെ കുടുംബം   ****    കേരളം നേരിടുന്നത് 1924-നുശേഷമുള്ള ഏറ്റവും വലിയ പ്രളയം; രണ്ടു മാസം കൊണ്ട് തകര്‍ന്നത് 8420 റോഡുകള്‍; 8316 കോടിയുടെ നാശനഷ്ടമുണ്ടായതായി പ്രാഥമിക കണക്ക്   ****    സംസ്ഥാനത്ത് മഴയുടെ സം‌ഹാരതാണ്ഡവം തുടരുന്നു; കണ്ണൂര്‍, മലപ്പുറം, കോഴിക്കോട്, പാലക്കാട്, വയനാട് ജില്ലകളില്‍ വന്‍ നാശനഷ്ടം; മൂന്നാറും ശബരിമലയും ഒറ്റപ്പെട്ടു   ****    കനത്ത മഴ തുടരുന്നു; മുല്ലപ്പെരിയാറിന്റെ വൃഷ്ടി പ്രദേശത്ത് ശക്തിയായ മഴമൂലം ജലനിരപ്പ് ഉയരുന്നു   ****    ലോസ് ആഞ്ചലസില്‍ കലയുടെ ഓണാഘോഷം ഓഗസ്റ്റ് 18-നു ശനിയാഴ്ച   ****   

श्रीनगर में आंतिकयों से दूसरे दिन भी मुठभेड़ जारी

February 13, 2018

Srinagar

श्रीनगर के श्रीनगर के करण नगर स्थित में सीआरपीएफ कैंप के पास सेना और आतंकियों के बीच मुठभेड़ मंगलवार को भी जारी है। 

सोमवार सुबह करीब 4.30 बजे दो-तीन आतंकियों ने सीआरपीएफ मुख्यालय में हथियारों समेत घुसने की कोशिश की थी, जिसके बाद पास की ही इमारत में छिपे हुए है जिसके बाद एनकाउंटर चल रहा है। बताया जा रहा है कि बिल्डिंग में 3-4 आतंकी हो सकते हैं।

CRPF के IG ऑपरेशन जुल्फिकार हसन ने बताया कि अभी भी एनकाउंटर चल रहा है, हम लोग नागरिकों को निकाल रहे हैं। उन्होंने कहा कि किसी भी नुकसान से बचने के लिए संभल कर कार्रवाई की जा रही है।

जम्मू-कश्मीर पुलिस IG एसपी पाणी का कहना है कि अभी ऑपरेशन अपने अंतिम दौर में चल रहा है, दो आतंकी अंदर हैं। आतंकी बिल्डिंगों के बीच में छुपे हुए हैं।

एनकाउंटर के दूसरे दिन आतंकियों पर नज़र रखने के लिए ड्रोन की मदद ली जा रही है। सीआरपीएफ और जम्मू-कश्मीर पुलिस के सीनियर अधिकारी भी मौके पर मौजूद हैं। सुरक्षाबलों ने करन नगर के आस-पास के इलाके को घेरा हुआ है।

बता दें कि सोमवार को सेना ने इस हमले को नाकाम तो कर दिया लेकिन इसमें एक जवान शहीद हो गया। इस हमले की जिम्मेदारी लश्कर ने ली। कैंप में हमले के बाद सीआरपीएफ की क्विक रिएक्शन टीम (QRT) ने करन नगर इलाके में एनकाउंटर शुरू किया।

बता दें कि आतंकी श्रीनगर के करन नगर में स्थित सीआरपीएफ हेडक्वार्टर को निशाना बनाने की फिराक में थे। सोमवार सुबह करीब 4.30 बजे हथियारों से लैस आतंकी सीआरपीएफ हेडक्वार्टर की ओर बढ़ रहे थे। इसी दौरान पहले से चौकस सुरक्षाकर्मियों की नजर आतंकियों पर पड़ गई।

बता दें कि इससे दो पहले ही जम्‍मू के सुुंजवान आरमी कैंप में आतंकियों की ओर से हुए हमले में सेना के 5 जवान शहीद हुए थे और चार आतंकी भी ढुर हुए थे। यह हमला आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने करवाया था।

Print This Post Print This Post
To toggle between English & Malayalam Press CTRL+g

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Read More

Scroll to top