Flash News

पेटलावद ब्लॉस्ट में लोग मारे नहीं गए ,शहीद हुए, कमलनाथ ने श्रद्धांजलि दी

September 12, 2018

Kamalnath-1

पेटलावद :    तीन साल पहले पेटलावद ब्लॉस्ट में लोग मारे नहीं गए, शहीद हुए हैं। प्रदेश सरकार ने घटना की सच्चाई को दबाया है। तीन माह बाद कांग्रेस की सरकार आते ही किसानों के कर्ज ओर बिजली के बिल माफ कर दिए जाएंगे। यह बात प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने आज यहाँ कही। वे पेटलावद ब्लॉस्ट की तीसरी बरसी पर मृतकों को श्रद्धांजलि देने आए थे।
घटना स्थल के समीप श्रद्धांजलि चौक पर उन्होंने मृतकों को पुष्प अर्पित किए। उनके साथ क्षेत्रीय सांसद कांतिलाल भूरिया ने भी श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए पुष्पांजलि अर्पित की। पेटलावद तहसील मुख्यालय स्थित शासकीय महाविद्यालय मैदान में कांग्रेस द्वारा परिवर्तन रैली भी आयोजित की गई। इस रैली में कांग्रेस के कई नेता मौजूद थे। रैली को संबोधित करते हुए कमलनाथ ने कहा कि वे विशेष रूप से पेटलावद ब्लॉस्ट के मृतकों को अपने श्रद्धा सुमन अर्पित करने आए हैं। क्योंकि, प्रदेश सरकार ने पेटलावद ब्लॉस्ट  की सच्चाई को दबाया है। पूरे प्रदेश में कई जगह ऐसे ही सच्चाई को दबाया जा रहा है।

उन्होंने केन्द्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा था कि हर साल 2 करोड रोजगार देंगे। उन्होंने ‘मेक इन इंडिया’ जैसे कई नारे भी दिए, लेकिन किसी को कुछ नहीं मिला। शिवराजसिंह कहते है कि प्रदेश में 50 हजार करोड का निवेश आने वाला है, नए उद्योग खुलेंगे। लेकिन, नए उद्योग खुले नहीं पर पुराने बंद हो गए। प्रदेश में तो शराब के उद्योग खुल रहे है और उनमें किसी को रोजगार नहीं मिलता! कमलनाथ ने कहा कि भ्रष्टाचार, कुपोषण, महिला अत्याचार, बलात्कार, बेरोजगारी में प्रदेश नंबर-वन पर है। भ्रष्टाचार गांव से लेकर भोपाल तक फैल गया! यहाँ तक कि गरीबी रेखा में नाम लिखवाने तक के लिए पैसे लिए जाते है। थाने में पोस्टिंग के लिए रेट फिक्स है। भाजपा सरकार से हर वर्ग परेशान है। उन्होंने उपस्थित समुदाय से आग्रह करते हुए कहा कि सच्चाई को समझें और देखे और अपनाएं तभी हमारा प्रदेश सुरक्षित होगा।

विधानसभा के उपनेता बाला बच्चन ने कहा कि पेटलावद ब्लॉस्ट की घटना का मुददा हमने विधानसभा में उठाया था। तत्कालीन गृहमंत्री बाबूलाल गौर ने कहा था कि घटना की रिपोर्ट आ चुकी है! लेकिन, आजतक इसका खुलासा नहीं किया गया। इस मामले मे सरकार और मुख्यमंत्री की नीयत साफ नहीं है। प्रशासन ने दो आरोपी बनाए और मुख्य आरोपी राजेन्द्र कासवा को मृतक बता दिया! नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने कहा कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह इसी पेटलावद में रोड पर आकर बैठे थे और सबकुछ बात जनता के बीच कही थी। मुआवजे से लेकर रोजगार तक! लेकिन, आज तीन साल हो गए कुछ नहीं हुआ! उन्होंने मुख्यमंत्री पर झूठ बोलने का आरोप लगाते हुए कहा कि झुठ बोलना उनकी शैली है। प्रदेश में सरकार बनाने का दावा करते हुए उन्होंने  कि हमारा वनवास पूरा होने की कगार पर है। वनवास खत्म करने के लिए सोनियाजी और राहुलजी ने कमलनाथजी को भेजा है। सांसद कांतिलाल भूरिया ने कहा कि ब्लॉस्ट की घटना में सरकार ने जो घोषणा और वादे किए थे, वे आज तक पूरे नहीं हुए! मृतकों के परिजनों को नौकरी और मुआवजा तक नहीं मिला! जिला कांग्रेस अध्यक्ष निर्मल मेहता, जिला पंचायत अध्यक्ष कलावती भूरिया, डॉ विक्रांत भूरिया ने भी संबोधित किया। सभा में प्रदेश अध्यक्ष का स्वागत तीर-कमान भेंटकर किया गया। पूर्व विधायक जैवियर मेडा, वालसिंह मेडा, सुलोचना रावत, महेश पटेल सहित जिले के पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता उपस्थित थे। कार्यक्रम का संचालन प्रकाश राका ने किया।

Print This Post Print This Post
To toggle between English & Malayalam Press CTRL+g

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Read More

Scroll to top