जन्मदिन विशेष: जानें जया बच्चन से जुड़ी दिलचस्प बातें

jayaमुंबई। अपने जमाने की मशहुर एक्ट्रेस जया बच्चन नौ अप्रैल को 69 साल की हो गई हैं। उनका जन्म 9 अप्रैल, 1948 को जबलपुर (मध्य प्रदेश) में हुआ था। कई यादगार फिल्मों में काम कर चुकी जया आज फिल्मों से दूर हों, लेकिन एक वक्त था जब वो पूरे डेडिकेशन के साथ फिल्मों में काम करती थीं। आज उनके जन्मदिन पर जानते हैं उनसे जुड़ी कुछ बातें।

ऐसे शुरु हुआ फिल्मी करियर
15 साल की छोटी सी उम्र से ही जया बच्चन का एक्टिंग करियर शुरू हो गया था, उन्होंने डायरेक्टर सत्यजीत रे की बंगाली फिल्म ‘महानगर’ (1963) में सपोर्टिंग एक्ट्रेस का किरदार निभाया था। सत्यजीत रे से इंप्रेस होकर जया ने फिल्म एंड टेलीविजन इंस्टिट्यूट ऑफ इंडिया (FTI) ज्वाइन की और वहां से गोल्ड मेडल के साथ पासआउट हुईं। साल 1971 में आई फिल्म ‘गुड्डी’ से अपने बॉलीवुड करियर की शुरुआत करने वाली जया बॉलीवुड की सबसे सफल एक्ट्रेसेस में से एक हैं। जया को उनकी पहली ही फिल्म के लिए बेस्ट एक्ट्रेस के फिल्मफेयर अवॉर्ड के लिए नोमिनेट किया गया था। अपने सिने करियर में जया आठ बार फिल्मफेयर पुरस्कार से सम्मानित की जा चुकी हैं।

जब पहली नजर में भा गए थे अमिताभ
जया बच्चन जब पुणे में पढ़ाई कर रही थीं, तो उसी दौरान अमिताभ बच्चन वहां अपनी पहली फिल्‍म ‘सात हिंदुस्तानी’ (1969) के लिए आए थे। जया बच्‍चन उन्हें पहचानती थीं। जया बच्‍चन की सहेलियां अमिताभ को देख, उन्हें लंबू-लंबू कहकर चिढ़ा रही थीं। ऋषिकेश मुखर्जी ने अपनी फिल्म ‘गुड्डी’ के लिए पहले जया के साथ अमिताभ बच्चन को कास्ट किया था। बाद में अमिताभ बच्चन को इस फिल्‍म से साइड कर दिया गया। फिल्‍म इंडस्ट्री के जानकार बताते हैं कि अमिताभ के लिए जया के मन में एक तरह का प्रेम या सहानुभूति इसी घटना के बाद हुई थी।

ऐसे हुई शादी
गुड्डी फिल्म से हटने के बाद दोनों ने 1973 में अमिताभ बच्चन और जया साथ-साथ ‘जंजीर’ फिल्म में नजर आए। इसी फिल्‍म के दौरान दोनों ने शादी करने का फैसला ‌ले लिया। वह इस फिल्म के बाद छुट्टी मनाने के लिए विदेश जाना चाहते थे। अमिताभ के पिता हरिवंशराय बच्चन ने साफ कह दिया कि यदि वह जया के साथ छुट्टियां बिताना चाहते हैं तो उन्हें पहले उनसे शादी करनी होगी। एक बेहद सादे समारोह में 3 जून, 1973 को अमिताभ और जया की शादी हो गई थी। पिछले 43 सालों से ये एक दूसरे का साथ निभा रहे हैं।

2004 में आई राजनीति में

2004 में समाजवादी पार्टी की तरफ से जया बच्चन राज्यसभा सदस्य बनीं। 1992 में जया बच्चन को ‘पद्मश्री’ से सम्मानित किया गया था। अब जया राजनीति में काफी आगे बढ़ गई है, और अपने काम से सभी की तारीफ भी हासिल कर रही हैं।

इन फिल्मों किया काम
‘जया ने ‘उपहार’ , ‘जवानी दीवानी’ (1972), ‘बावर्ची’ (1972), ‘परिचय’ (1972),’कोशिश’ (1972) समेत कई फिल्मों में काम किया। साल 1972 में आई फिल्म ‘कोशिश’ के बाद ऋषिकेष मुखुर्जी जया के पंसदीदा निर्देशक बन गए। इसके ‘अभिमान’, ‘मिली’ (1975) और ‘चुपके चुपके'(1975) जैसी कई फिल्मों में काम किया। बतौर लीड एक्ट्रेस सिलसिला उनका आखिरी फिल्म थी।

Print Friendly, PDF & Email

Leave a Comment