त्‍योहार के सीजन में नए कपड़े लेने के बाद जरुर धोएं, वरना हो सकती है ये प्रॉब्‍लम

img5-11-1460371220-1539845098

फेस्टिव सीजन शुरु हो चुका है, लोगों ने तो त्‍योहार में नया कपड़े पहनने के ल‍िए अभी से ही शॉपिंग शुरु कर दी है। कई लोग तो अभी से नए कपड़े खरीदकर ले भी आएं होंगे। लेकिन नए कपड़ों की शॉपिंग करने के बाद क्‍या खरीदने आपने इन्‍हें धोया? जी हां आपने सही सुना, अब आप सोच रही होंगे कि नए कपड़ों को खरीदने के बाद इन्‍हें धोने की क्‍या जरुरत है? हम आपको बता रहें कि अगर आप भी नए कपड़ों को बिना धोए पहन लेते हैं, तो ऐसा करने से आपकी स्किन इफेक्‍ट हो सकती है।

दरअसल, नए कपड़ों को हमसे पहले भी कई लोग पहन कर ट्राई करते हैं। यदि किसी व्यक्ति को स्किन से संबंधित कोई समस्या होगी, तो उसका इंफेक्शन आपको भी हो सकता है। कई बार कपड़ों में इस्तेमाल होने वाले केमिकल के अंश भी कपड़ों में रह जाते हैं। ऐसे में जब आप बिना धोए कपड़ों को पहनते हैं, तो इन केमिकल्स के कुछ अंश त्वचा से रिएक्शन करते हैं। इससे एलर्जी होने का खतरा बढ़ जाता है।

कैसे कपड़ों से पहुंचता है इंफेक्‍शन
अक्‍सर आपने देखा ही होगा कि शॉपिंग मॉल में आप से पहले नए कपड़ों को बहुत लोग ट्रायल रुम में पहनकर देखते हैं। जिस मॉल या शॉप से आप कपड़े खरीदते हैं, वहां भी वे कपड़े पहुंचने से पहले कई स्थानों से होकर गुजरते हैं। क्या आप जानते हैं कि कपड़ों को केमिकल से कलर करने के बाद उन्हें धोया या साफ नहीं किया जाता है। ऐसे में केमिकल कलर के कुछ अंश कपड़ों में रह जाते हैं। जो आपके शरीर के सम्‍पर्क में आने से आपको संक्रमित कर सकता है।

क्या हो सकते है नुकसान?
जब आप बिना धोए नए कपड़ों को पहनते हैं तो स्किन इंफेक्शन के साथ-साथ कई अन्य बीमारियों का खतरा पैदा हो सकता है। ऐसे में जरूरी है कि जब भी आप नए कपड़े खरीदें, तो उसे एक बार जरूर धो लें।

रह जाते है बैक्‍टीरिया
अक्‍सर लोग कपड़े खरीदने के ल‍िए बाहर से आते है जिसकी वजह से वो धूल, प्रदूषण, पसीने की वजह से बैक्‍टीर‍िया के सम्‍पर्क में आते है। लोग ऐसे ही कपड़ों को ट्राय कर लेते है जिस वजह से बैक्‍टीरिया कपड़ों में ही रह जाते हैं।

स्किन इंफेक्‍शन
आपको नहीं मालूम होता है कि आपसे पहले किस ने मॉल में या ट्रायल रुम में कपड़ों को ट्राय किया है। हो सकता हो कि आप जिस कपड़ें को ट्राय कर रहें हो, आपसे पहले जिसने उसे ट्राय किया हो उसे कोई स्किन डिजीज हो। जब आप उन्हीं कपड़ों को ट्राई करते हैं, तो उसके पसीने या इंफेक्‍शन के जर्म आपकी त्वचा पर आ जाते हैं। इससे आपको स्किन इंफेक्शन का शिकार होना पड़ता है।

छोटे बच्‍चों के ल‍िए रखें ध्‍यान
जिन लोगों की त्वचा संवेदनशील होती है। उन्‍हें तो हमेशा नया कपड़ा धोकर ही पहनना चाह‍िए। छोटे बच्चों को बिना धोए कभी भी नए कपड़े न पहनाएं। बच्चों की त्वचा बहुत अधिक संवेदनशील होती है, इसल‍िए बच्‍चों के ल‍िए लाने वाले कपड़ों को गर्म पानी में धोने के बाद ही उन्‍हें पहनाएं।

कलर्स से हो सकती है त्वचा की परेशानी
आजकल कई ब्रांड कपड़ों की कलर‍िंग के ल‍िए डाई और केमिकल कलर का इस्‍तेमाल करते हैं। जो नेचुरल कलर होते हैं उनका कोई रंग नहीं होता है। इसमें इन कलर से कोई नुकसान नहीं होता है लेकिन कपड़ों की रंगाई, छपाई और डाई जैसी क्रियाओं की वजह से कपड़ों में कई सारे केमिकल्स लगाए जाते हैं। ऐसे में इन केमिकल्‍स की कुछ मात्रा कपड़ों में रह जाते है और बिना धोएं डायरेक्‍ट इन कपड़ों को पहनने की वजह से स्किन एलर्जी का कारण बन सकती है।

Print Friendly, PDF & Email

Please like our Facebook Page https://www.facebook.com/MalayalamDailyNews for all daily updated news

Leave a Comment